Aankh ke fadakne se kya hota hai। जानिए किस आंख का फड़कना शुभ और किसका अशुभ माना गया है

Aankh ke fadakne se kya hota hai


दोस्तों हर किसी की आंख कभी ना कभी फड़कती जरूर है।आंख के फड़कने में कई तरह के मतलब सामने आते है। तो चलिए आंखो के फड़कने के बारे में बात करते है । शास्त्रों के अनुसार आंखे हमें कई तरह की आने वाली समस्या और खुशी को सूची करने की कोशिश करती है। हिंदू शास्त्रों के अनुसार आंखो के फड़कने के बारे में कई बातें बताई गई है जो निम्न प्रकार है। 

Aankh ke fadakne ka matalab

शास्त्रों के अनुसार -


पुरुष की बाएं आँख का फड़कना
     अगर पुरुष की बाएं आंख़ का फड़कना अशुभ माना गया है। अगर बायी आंख फड़कती तो समझ लीजिए कि कोई अशुभ होने वाला है। जिससे आपको सतर्क होने की ज़रूरत होती है। और आपकी दुश्मनी बढ़ने की संभावना ज्यादा होती है।


पुरुष की दाहिनी आँख का फड़कना
      शास्त्रों के अनसार यदि पुरुष की दाहिनी आंख फड़कना है तो समझ लीजिए कि कुछ शुभ होने वाला है। दाहिनी आंख का फड़कना शुभ होने का संकेत करती है । तो समझ कीजिए कि पुरुषों के में की सारी कामना पूरी होने वाली है।


Aankh ke fadakne ka matalab


Aankh ke fadakne se kaise roke

स्त्रियों की बायी आँख का फड़कना
     शास्त्रों के अनुसार यदि स्त्रियों की बाएं आँख फड़कती है । तो समझ लीजिए कि कुछ शुभ होने वाला है और स्त्रियों कि मनोकामना पूरी होने वाली है। कोई ना कोई खुशी जरूर आने वाली है ।


स्त्रियों की दाहिनी आँख का फड़कना
    शास्त्रों के अनुसार यदि स्त्रियों की दाहिनी आँख फड़कती है तो समझ लीजिए कि कोई ना कोई अशुभ संकेत जरूर होने वाला है। इसके फड़कने से झगड़े होने की संभावना ज्यादा होती है। 


वैज्ञानिक तथ्यों के अनुसार
कुछ मेडिकल रिसर्च में पाया गया कि आंख के फड़कने में कई तरह की आंखो में समस्या के कारण आंख फड़कती है मेडिकल के अनुसार कभी - कभी आंख तनाव के कारण फड़कना शुरू कर देती है। और आंख जलन के कारण भी फड़क सकती है। 

What is the scientific reason for eye rash

What is the scientific reason for eye rash

       कुछ लोग है जो लगातार मोबाइल फोन या लैपटॉप में ज्यादा देर तक देखते रहते हैं जिससे आंखो का फड़कना तेज हो जाता है। और तो और एलर्जी से भी आंखो के फड़कने की समस्या हो सकती है। आंखों को ज्यादा देर तक रगड़ने ने उनमें खून का संचार कम हो जाता है जिससे आँख फड़क सकती है। और इसी को ध्यान में रखते हुए यदि आंखों का फड़कना बंद ना हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। नहीं तो किसी प्रकार कि समस्या उत्पन्न हो सकती है।


          दोस्तों आपको ये हमारी पोस्ट कैसी लगी हमें कॉमेंट करके जरूर बताएं ताकि हम आपके लिए अच्छी से अच्छी पोस्ट कर सकें और अगर आप हमारे वेबसाइट पर नए हैं तो सब्सक्राइब कर लीजिए ताकि अगले आने वाली पोस्ट की नोटिफिकेशन सबसे पहले आप तक पहुंचे
                                                   धन्यवाद्


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां