मीना कुमारी और धर्मेंद्र की प्रेम कहानी कुछ यूं थी। Meena Kumari and Dharmendra's love story was like this.

मीना कुमारी और धर्मेंद्र की प्रेम कहानी कुछ यूं थी। Meena Kumari and Dharmendra's love story was like this. 
   मीना कुमारी 50 वा 60 के दशक की एक मशहूर अभिनेत्री थीं।उनका विवाह साल 1954 में फ़िल्म निर्माता कमल अमरोही के साथ हुआ रहा। लेकिन इनकी शादी 1964 में टूट है। इसका कहीं ना कहीं कारण अभिनेता धर्मेंद्र और मीना कुमारी की नजदीकियां थीं। जो की आगे चलकर मीनाकुमरी के वैवाहिक जीवन के बीच का दरार बन गईं।

Dharmendra and meena Kumari


      मीना कुमारी और धमेंद्र ने साल 1964 से 1968 के बीच दोनों ने लगभग चार साल तक एक साथ कई फिल्मों में काम किया। उस समय धर्मेंद्र बॉलीवुड में अपना कदम जमा रहे थे। लेकिन मीना कुमारी बॉलीवुड का मशहूर नाम था। और वहीं धर्मेंद्र साहब के कैरियर को आगे बढ़ाने में मीना कुमारी जी का अहम योगदान था। धर्मेंद्र को शुरुआती दिनों में मीना कुमारी ने बहुत काम दिलाया जिसकी वजह से धर्मेंद्र का फिल्मी सफर शुरू हो गया।

       इसका यही कारण था। की मीना कुमारी का धर्मेंद्र साहब के प्रति प्रेम। मीना कुमारी ने ज्यादातर फिल्मों में धर्मेंद्र के साथ काम किया। मीना कुमारी ने अपनी फिल्मों में धर्मेंद्र साहब को बतौर हीरो काम करने के लिए फिल्म निर्माताओं से शर्त रखती थी। की उनकी फिल्म में धर्मेंद्र को हीरो का रोल दिया जाए।

        धर्मेंद्र और मीना कुमारी के प्रेम के किस्से उस समय बहुत मशहूर थे। सारे देश में इनके प्रेम के चर्चे था। फिल्मी गलियारों से लेकर दिल्ली के राजनीति तक इनके प्रेम के चर्चे थे। एक समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने धर्मेंद्र से उनके और मीना कुमारी के प्रेम के बारे में पूछ लिया था। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है की इनके प्रेम उस समय अपने चरम सीमा पर थे।
  
    धर्मेंद्र मीना कुमारी साथ फिल्मों में काम करके सुपर स्टार बन गए। और उस समय धर्मेंद्र अपने काम में इतने व्यस्त ही गए की मीना कुमारी को समय नहीं दे पा रहे थे। और दोनों में दूरियां शुरु हो गई। उसी बीच में कुमारी बीमार पड़ गईं। यहां तक की धर्मेंद्र उनका हालचाल भी पूछने नहीं गए जिससे उनका दिल और टूट गया और तो और इसी सोच की वजह से मीना कुमारी और बीमार पड़ गई।
      
      मीना कुमारी अपने जीवन में जिस सच्चे प्यार को ढूंढती रही उन्हें वह प्यार नसीब ही नहीं हुआ। बल्कि उनका प्यार सिर्फ उन्हें अपने कैरियर को बनाने में इस्तेमाल किया। यहां तक कि धर्मेंद्र साहब और मीना कुमारी की मुलाक़ात एक पार्टी में हुई। लेकिन धर्मेंद्र साहब ने वहां पर इनसे बोला ही भी। मीना कुमारी इन्हे बार - बार देखती रही लेकिन धर्मेंद्र साहब इनसे बोलने को भी राजी नहीं हुए। और अलग ही फ़ोटो खींचवाने और बात करने में व्यस्त रहे। मीना कुमारी इससे नाराज होकर उस पार्टी से चली गईं।
    
       आपको जानकारी के लिए बता दूं की मीना कुमारी का जन्म 1 अगस्त 1933 को मुंबई में हुआ था। इनका असली नाम मजहबी बानो था ये मुस्लिम थी। लेकिन इन्होंने अपना नाम मीना कुमारी फिल्मों में आने के बाद रखा था। इन्हें  ट्रेजडी क्वीन के नाम से भी पुकारा जाता था। इन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1939 में  लैदरफेस से शुरू किया था। मीना कुमारी की मृत्यु मात्र 38 साल की उम्र में 31 मार्च 1972 को मुंबई में हुआ था। फिल्मों में इनका नाम सदैव सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा। मीना कुमारी और धर्मेंद्र के प्रेम के किस्से हमेशा अमर रहेंगे।




टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां